UttarakhandDIPR

एमजे अस्पताल पर स्वास्थ्य विभाग ने लगाया 50 हजार का जुर्माना, जांच में पाया गया अवैध

एमजे अस्पताल पर स्वास्थ्य विभाग ने लगाया 50 हजार का जुर्माना, जांच में पाया गया अवैध

लखनऊ। सीतापुर रोड के खदरा स्थित एमजे अस्पताल का संचालन स्वास्थ्य विभाग की जांच में अवैध पाया गया। जिसके बाद अस्पताल प्रशासन पर 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है। जुर्माने की राशि भी अस्पताल प्रशासन द्वारा कोषागार में जमा करा दी गई है। हालांकि, अभी तक अस्पताल का पंजीकरण नहीं कराया जा सका है।

बता दें कि स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गत जनवरी माह में खदरा स्थित एमजे अस्पताल पर छापा मारा था। इस दौरान वहां पर तीन मरीज भर्ती मिले थे। अस्पताल का पंजीकरण नहीं था। मरीजों का इलाज केजीएमयू का छात्र करता मिला था। सीएमओ ऑफिस से अस्पताल को नोटिस दी गई थी, उसमें लिखा था कि निरीक्षण में तीन गंभीर मरीज भर्ती मिले थे। इनका इलाज अप्रशिक्षित डॉक्टर के जरिए किया जा रहा था।

अस्पताल में कोई भी कुशल चिकित्सक नहीं था। यह नोटिस सोशल मीडिया पर भी वायरल हुई थी। फजीहत होने पर विभाग ने 50 हजार रुपये का जुर्माना लगाने के लिए फाइल डीएम को भेजी थी। डीएम से संस्तुति मिलने के बाद जुर्माने राशि कोषागार में जमा करवाई गई है। सीएमओ डॉ. मनोज अग्रवाल के मुताबिक, अस्पताल पर लगे जुर्माने की राशि कोषागार में जमा करा दी गई है। अस्पताल का संचालन अभी नहीं हो रहा है।