UttarakhandDIPR

जिलाधिकरी ने प्लास्टिक कूड़े के निस्तारण को लेकर दिए जरूरी निर्देश

जिलाधिकरी ने प्लास्टिक कूड़े के निस्तारण को लेकर दिए जरूरी निर्देश

उत्तरकाशी: चारधाम यात्रा पर आने वाले यात्री चलते वाहनों से सड़क के किनारे प्लास्टिक बोतले एवं खाद्य पदार्थों के रैपर आदि फेंके जाते है। जिससे पर्यावरण दूषित होने की प्रबल संभावना होती है। जिलाधिकारी अभिषेक रुहेला ने यात्रा पड़ाव एवं राष्ट्रीय राजमार्गों के दोनों किनारे अव्यवस्थित प्लास्टिक कूड़े के निस्तारण एवं स्वच्छता व्यवस्था को दुरुस्त बनाएं रखने के निर्देश दिए है।

इस सम्बंध में विकास भवन में स्वच्छता कंट्रोल रूम स्थापित किया गया। कंट्रोल रूम के नोडल अधिकारी परियोजना निदेशक रमेशचंद्र सिंह को नामित किया गया है। साथ ही स्वच्छता कंट्रोल रूम का मोबाइल नंबर -7302276833 को भी चालू रखा गया है। कंट्रोल रूम में सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक कर्मचारियों की भी तैनाती की गई है। जिनके द्वारा यात्रा पड़ाव पर तैनात पर्यावरण मित्रों, सफाई कर्मी एवं सफाई निरीक्षकों व सुपरवाइजर से नियमित समन्वय स्थापित किया जाएगा।

सफाई व्यवस्था के अनुश्रवण एवं निगरानी पंचायत राज विभाग, स्वजल एवं जिला पंचायत की निर्धारित की गई है यात्रा पड़ाव के मुख्य बाजारों एवं कस्बों में प्लास्टिक एकत्रीकरण हेतु दुकानदारों एवं होटल व्यवसायियों को स्वज़ल एवं जिला पंचायत के द्वारा थैले वितरित किए जा रहे हैं। ताकि प्लास्टिक कूड़ा थैले में भरकर उसका काम्पेक्टर के माध्यम से उचित निस्तारण किया जा सकें।