UttarakhandDIPR

आवारा पशुओं ने बढ़ाईं ग्रामीणों की मुश्किलें, नगर पालिका से लगाई गुहार

आवारा पशुओं ने बढ़ाईं ग्रामीणों की मुश्किलें, नगर पालिका से लगाई गुहार

देहरादून: डोईवाला क्षेत्र में आवारा पशुओं ने किसानों के लिए परेशानी बनते जा रहे हैं। ऐसे में अठुरवाला की ग्रामीण महिलाओं ने नगर पालिका परिषद से आवारा पशुओं की धमक को रोकने की गुहार लगाई है। वहीं, ग्रामीण महिलाओं ने बताया कि उन्होंने कई बार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत से लेकर विभागीय अधिकारियों को मामले से अवगत करा चुकी हैं, लेकिन अभी तक आवारा पशुओं की रोकने के कोई भी उपाय नहीं किए गए हैं।

महिलाओं ने बताया कि उन्हें दिन-रात अपने खेतों की रखवाली करनी पड़ती है। इस दौरान आवारा पशु उन पर हमला भी कर देते हैं। अठुरवाला के सभासद संदीप नेगी ने बताया कि किसानों द्वारा छोड़े गए आवारा पशु, ग्रामीण लोगों की परेशानी का कारण बने हुए हैं।

इतना ही नहीं ये आवारा पशु फसलों को भी नुकसान पहुंचा रहे हैं। उन्होंने बताया कि विभागीय अधिकारियों से आवारा पशुओं के लिए पशु बाड़ा बनाने के लिए कहा है। नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी विजय पीएस चैहान ने बताया कि आवारा पशु किसानों ने छोड़े हैं।

नगर पालिका इन आवारा पशुओं के बाड़े बनाने के लिए जमीन तलाश रही है। उन्होंने कहा कि अब उन किसानों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी, जो इन पशुओं को खुले में छोड़ रहे हैं। इसके लिए पशुपालन विभाग के साथ मिलकर पशुओं की टैगिंग की जा रही है। जिस किसान का पशु छोड़ा हुआ पाया जाएगा, उसके खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply